Sunday, December 11, 2016

sweth ganga shiv temple Bamhani श्वेत गंगा शिव मंदिर बम्हनी

ब्रम्हनेश्वरनाथ महादेव श्वेत गंगा ग्राम बम्हनी जिला महासमुंद
श्वेत गंगा बम्हनी
ब्रम्हनेश्वरनाथ महादेव



जिला मुख्यालय से महज १० कि. मी दूरी पर ग्राम बम्हनी स्थित है यहाँ का मुख्य आकर्षण का केन्द्र है श्री ब्रम्हनेश्वरनाथ महादेव का प्राचीन शिव मंदिर इसलिये यहाँ शिव भक्तो का विशेष आस्था का केंद्र है यह मंदिर अति प्राचीन है यह कितना वर्ष पुराना इसके बारे में किसी को ठीक से ज्ञात नहीं है फिर भी अनुमान लगाया जाता है कि इस मंदिर का निर्माण विक्रम संवत १९६० के आसपास पंचवटी परिवार के द्वारा बनवाया गया है
temple in bamhani,mahasamund

उस समय यहाँ पर घने जंगल हुवा करता था पंचवटी परिवार के श्री अर्जुन प्रशाद जी यहा पर रोज भ्रमन करने के लिए आते थे तभी उसकी मुलाकात साधना में लीण परम तेजस्वी ऋषि देवल से हुई उसी के अनुग्रह के कारण यहाँ पर श्वेत गंगा ओर ब्रम्हनेश्वरनाथ महादेव का प्राक्टय हुवा और अस्वासन दिया कि यदि आवश्यकता पड़ी तो और दुसरे नदी को यहाँ प्रकट करेंगे इसी करण इस स्थान को श्वेत गंगा कहा जाता है यहाँ पर शिव मंदिर के समीप एक कुण्ड है जिसमे निरंतर गर्म जल कि धारा प्रवाहित होती रहती है कुण्ड के जल को अति पावन माना गया है यहाँ पर आसपास विशाल बरगद का वृक्ष है जो साधन के लिए उचित स्थान मालूम पड़ता है यही पर श्री देवल ऋषि वट वृक्ष के निचे तपस्या करते थे और यही उसका निवाश स्थान था उसका आसन अभी भी है लोग उसकी पूजा अर्चना बड़े श्रधा के साथ करते है यहाँ पर और


शिव मंदिर है नर्मदेश्वरनाथ महादेव हनुमान मंदिर रामेश्वर शिव जी केवट समाज का शिव मंदिर देखने योग्य है यहाँ पर सावन माश में कवरियो के द्वार शिव जी का विशेष अभिषेक किया जाता है और यहाँ के कुण्ड के जल को आसपास के शिव स्थल जैसे सिरपुर,राजिम,चंपारण ,दलदली


,महादेव घाट आदि में ले जाया जाता है यहाँ प्रतीवर्ष माघ माश कि पूर्णिमा को विशाल मेले का आयोजन किया जाता है.और महाशिवरात्रि में पंचकोशि साधुवो के द्वारा विशाल यज्ञ का आयोजन किया जाता है जो देखने योग्य है यहाँ का वातावारा अति रमणीय हैयहाँ पर आप एक बार आयेंगे तो यही पर निवाश करने कि इच्छा होती है पूरा वातावरण शिव मई लगता हैमंदिर का निर्माण कार्य अभी चल रहा है।

इन्हें भी देखे :-
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...